July 7, 2020

खत्म हुआ इंतजार! जुलाई में पहुंचेंगे राफेल विमान, जाने कहां होगी डिलीवरी

नई दिल्ली: राफेल विमान को लेकर बड़ी खबर सामने आई है। फ्रांस से 6 राफेल विमान, जुलाई में अंबाला पहुंचेंगे। पहले ये विमान मई में आने थे। वहीं पहले फ्रांस से केवल 4 विमान ही आने वाले थे लेकिन अब 6 विमान आएंगे। बता दें कि इससे पहले भारत में फ्रांस के राजदूत इमैनुएल लेनिन ने कहा था कि भारत को 36 राफेल लड़ाकू विमानों की आपूर्ति में कोई देरी नहीं होगी और जिस समय सीमा को तय किया गया था, उसका सख्ती से पालन किया जाएगा। भारत ने फ्रांस के साथ सितंबर 2016 में 36 राफेल लड़ाकू विमानों की खरीद के लिए करीब 58,000 करोड़ रुपए की लागत से समझौता किया था।

ये भी पढ़ें-    बिहार विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरू, चुनाव आयोग ने प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरूआत की

लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) और लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर तनाव के बीच भारत के लिए अच्छी खबर है। भारतीय वायुसेना को राफेल लड़ाकू विमान की पहली खेप 27 जुलाई को मिलेगी। बताया जा रहा है कि 4 से 6 राफेल विमान अंबाला एयरबेस पर पहुंच जाएंगे। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार गेमचेंजर हथियारों की डिलिवरी का सिलसिला शुरू हो गया है। Scalp और Meteor मिसाइल की डिलिवरी शुरू हो गई है। भारतीय वायुसेना की गोल्डन एरो स्क्वाड्रन अगस्त में राफेल विमानों के साथ मोर्चा संभाल लेगी। बताया जा रहा है कि फ्रांस से भारतीय पायलट राफेल को भारत ला रहे हैं।

ये भी पढ़ें-    सृजन घोटाले के पैसे से बिल्डिंग बनवा रहे हैं सुशील मोदी के भाई, पप्पू यादव ने खोल दी पोल

आपको बता दें कि भारत ने सितंबर, 2016 में फ्रांस के साथ 36 राफेल लड़ाकू विमानों की डील की थी। यह डील तकरीबन 59 हजार करोड़ रुपये की थी। इन विमानों के जरिए भारत की वायुसेना को और ताकत मिलेगी। सरकार के सूत्रों की मानें तो राफेल में 150 किमी. तक की रेंज में मेट्योर मिसाइल लगी होगी। यानी चीन से मिलने वाली हर चुनौती का भारत करारा जवाब देगा। भारतीय वायुसेना के पायलट ने इन विमानों की ट्रेनिंग ले ली है, ऐसे में जैसे ये भारत पहुंचेंगे तो काम करने के लिए पूरी तरह से तैयार होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed