August 14, 2020

जिला शिक्षा कार्यालय में ही शिक्षक ने किया आत्महत्या की कोशिश, जाने क्या है मामला…

सीतामढ़ी के शिक्षा विभाग में एक और अनोखा कारनामा सामने आया है। शिक्षा विभाग के अधिकारियो के मनमानी से आजिज एक शिक्षक ने जिला शिक्षा कार्यालय में ही आत्महत्या करने की कोशिश की। शिक्षक ने चाकू से अपने हाथों की नसे काट ली। घटना को लेकर कार्यालय में अफरा तफरी की स्थिति उत्पन्न हो गयी।

ये भी पढ़ें- बिहार में जाने किन पांच जिलों में है सबसे अधिक कोरोना के मरीज, शनिवार का आया आकड़ा

बता दें कि इस घटना के बाद स्थानीय विधायक समेत कई शिक्षक नेता शिक्षा विभाग के कार्यालय पहुंच गये। जिला शिक्षा पदाधिकारी ने घटना को लेकर बताया कि अनुकम्पा के आधार पर पीड़ित शिक्षक की बहाली हुई है। उनके साथ कुल 80 शिक्षक हैं, जो अप्रशिक्षित हैं। ऐसे शिक्षकों को सरकार से निर्देश दिया गया है कि उनकी सेवा समाप्त की जाये, लेकिन जब तक उन लोगों ने काम किया है उसका मेहनताना मिलना वाजिब है। ऐसी परिस्थिति में एक सप्ताह के भीतर उनके वेतन भुगतान की प्रकिया पुरी कर दी जायेगी।

ये भी पढ़ें- लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों हो जाओ सावधान, पुलिस ने कस ली है कमर, जाने कितनों पर हुई कार्रवाई

बता दें कि सीतामढ़ी के बथनाहा प्रखंड के कमलदह गांव के सरकारी स्कूल मे पदस्थापित सरकारी शिक्षक दीरेन्द्र कुमार झा ने शनिवार को अपने हाथों की नस काटकार आत्महत्या करने की कोशिश की है। इससे पहले भी बरियारपुर प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक संजीव कुमार ने 5 सालों से अपने लंबित वेतन को लेकर गर्दन काट आत्महत्या का प्रयास किया था।

सीतामढ़ी से आदित्यानंद आर्य की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *