June 5, 2020

गैंडे की मौत से वन विभाग में हड़कंप, ईख के खेत में मिली गैंडे की शव, अधिकारियों ने….!

बिहार के बगहा क्षेत्र के वीटीआर में गैंडे की संदिग्ध हालात में मौत के बाद अधिकारियों में हड़कंप मच गया, बताया जा रहा है कि टाइगर रिजर्व के वाल्मीकि जंगल से जानवार जंगल से निकल कर बाहर की ओर लगातार आ रहे है, पिछले दिनों इसी जंगल से निकल कर एक हिरण को शिकारियों ने मार कर उसका सिंह और पैर लेकर चले गए थे लेकिन इस बार एक गैंडे को खेत में मृत पाकर अधिकारियों के बीच हड़कंप मच गया, गैंडा की मौत ने वन विभाग की कार्यशैलियों पर कई तरह की सवाल खड़ा कर दिया, घटना वाल्मीकि नगर रेंज के भेड़ियारी जंगल की है ।

आगे पढ़ें-भागलपुर में ट्रक एवं बस की टक्कर में 9 मजदूरों की मौत, जबकि अन्य कई घायल

जानकारी के लिए हम आपको बता दे कि वन विभाग के अधिकारियों को गैंडे की मरने की खबर मिली जिसके बाद वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और पड़ताल करना शुरु कर दी, गैंडा के मौत के कारणों का अब तक पता नहीं चल सका है, लेकिन जंगल के समीप गन्ना के खेत से

खबरों को विस्तार से देखने के लिए हमारे APP को डाउनलोड करें- https://play.google.com/store/apps/details?id=com.newsone11.app&hl=en

गैंडा के शव को वन विभाग ने बरामद कर लिया है पाल के चितवन निकुंज में पाया जाने वाला जानवर है, हाल के दिनों में वाल्मीकि टाइगर रिजर्व की वादियां गैंडों को खूब पसंद आ रहा है जिसके कारण भारतीय क्षेत्र में विचरण कर रहे हैं, वाल्मीकि रिजर्व में गैंडा नेपाल के चितवन से आए मेहमान जानवर के रूप में जाने जाते हैं, लेकिन विशेषकर सीधा चलने की आदत के कारण अधिकांश की मौत की हो जाती है लेकिन जानवारो के लगातार मौत ने कई तरह के सवाल भी खड़े कर दिए है ।

आगे पढ़ें-भागलपुर में ट्रक एवं बस की टक्कर में 9 मजदूरों की मौत, जबकि अन्य कई घायल

वही अधिकारियों ने गैंडा के शव को अपने कब्जे में लेते हुए उसका पोस्टमार्टम करने के लिए भेजा है वन विभाग ने दावा किया है कि पोस्टमार्टम के बाद पता चल जाएगा कि गैंडे की मौत किस तरह से हुई, वही उन्होंने कहा कि सभी पहलू पर जांच कर गैंडे की मौत का कारण जानने की कोशिश किया जा रहा है जल्द ही इसका खुलासा हो जाएगा ।अब देखना है कि गैंडे को भी किसी ने हिरण की तरह शिकार खेला है या फिर उसकी मौत किसी और वजह से हुई है

बगहा से न्यूज वन11 के लिए नूरलैन की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *