April 5, 2020

छपरा में नियोजित शिक्षकों ने गद्हे को शिक्षामंत्री बना किया प्रदर्शन, कही ये बड़ी बात

बिहार में ‘समान काम-समान वेतन’ को लेकर नियोजित शिक्षक पिछले 27 दिनों से सूबे के अगल-अगल हिस्सो में प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी दौरान छपरा में अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे नियोजित शिक्षकों ने अपनी मांग के समर्थन में नए-नए तरीके अपनाकर सरकार का विरोध किया है। इस के साथ साथ नियोजित शिक्षकों ने बिहार के शिक्षा मंत्री के खिलाफ भी जमकर विरोध प्रदर्शन किया है। इस दौरान छपरा में नियोजित शिक्षकों ने गदहे को नियोजित शिक्षक बता उसके साथ विरोध प्रदर्शन किया है। इस दौरान गदहे के शरीर पर एक तख्ती लगाकर नियोजित शिक्षकों ने उसमें शिक्षा मंत्री को गदहा बताते हुए पूरे शहर में घुमाया है।

ये भी पढ़ें : शिवहर जिला में लागू हुआ धारा 144, जाने क्या है कारण ।

आपको बता दें कि नियोजित शिक्षक अपने लिए समान काम के बदले समान वेतन की मांग कर रहे हैं। और इसको लेकर पूरे राज्य में प्रदर्शन किया जा रहा है। नियोजित शिक्षक लगातार कई दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं और इस बीच सरकार और शिक्षा मंत्री ने कई बार उनसे वार्ता करने की भी बातें कही हैं। लेकिन नियोजित शिक्षक अपनी मांग पर डटे हुए हैं। उनका सीधे तौर पर यह कहना है कि जब तक उनकी मांग पूरी नहीं होती है तब तक वह हड़ताल से वापस नहीं आएंगे।

ये भी देखें : जब मर्दानी बनी नियोजित शिक्षिका ने सीएम नीतीश को सुनाया…

हालांकि सरकार ने नियोजित शिक्षकों पर कार्रवाई भी की है। कई नियोजित शिक्षकों को बर्खास्त किया गया है तो कई पर f.i.r. भी किया गया है। बावजूद इसके नियोजित शिक्षक पीछे हटने को तैयार नहीं है। नियोजित शिक्षकों के हड़ताल के दौरान छपरा में एक तस्वीर देखने को मिली। जहां गदहे के साथ पूरे शहर में नियोजित शिक्षकों ने घूमकर सरकार का विरोध किया। इस दौरान शिक्षा मंत्री का भी विरोध किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि जब तक उनकी मांगे पूरी नहीं होती है तब तक वह हड़ताल करते रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *