April 4, 2020

कोरोना के खतरे को देख बिहार के 5 जिलों में धारा 144 लागू, रेलवे भी हुआ सक्रिय !

जहां एक तरफ पूरा विश्व कोरोना वायरस की चपेटे में वहीं इसको देखते हुए। बिहार में भी कोरोना वायरस  को लेकर पहले से ही सावधानी बरती जा रही है। जिसको लेकर लगातार आलाअधिकारियों के द्वारा घोषणाएं और निर्देश जारी किए जा रहे हैं। इसी बीच बिहार के पांच जिलों में तत्काल प्रभाव से धारा 144 लागू कर दिया गया है।

ये भी पढ़ें : 1 अप्रैल से मोबाइल फोन हो जाएंगा महंगा, सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला

आपको बता दें कि बिहार के सीवान, गोपालगंज, वैशाली, बक्सर और अरवल में धारा 144 लागू की गई है। जिसके तहत अब इन जिलों में अब एक जगह पर चार से अधिक लोगों के रहने पर भी पाबंदी लगा दी गई है। इस आदेश को सख्ती से पालन कराने के लिए SDO को विशेष निगरानी बरतने का भी निर्देश दिया गया है।

इसके साथ ही कोरोना के बढ़ते मामले को लेकर जहां कई कार्यक्रम स्थगित कर दिए गए हैं वहीं बिहार लोक सेवा आयोग ने भी अपनी सहायक अभियंता की परीक्षाएं टाल दी हैं। आपको बता दें कि बीपीएससी 21 और 22 मार्च को सहायक अभियंता की परीक्षा लेने वाला था। लेकिन कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए ये अगले आदेश तक स्थगित कर दिया है। इसके साथ ही पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय ने भी पीएचडी की परीक्षा अगले आदेश तक स्थगित करने का निर्णय लिया है।

ये भी पढ़ें : महेंद्र सिंह धोनी ने अपनाया नया लुक, प्रशंसकों ने की जमकर तारीफ

आपको बता दें कि कोरोना वायरस के मामले भारत में लगातार बढ़ते जा रहे हैं। आकड़ों के मुताबित भारत में कोरोना के 108 मामले सामने आएं है जिसमें 2 लोगों की मौत हो गई है। वहीं इस बीमारी के बढ़ते आकड़ों को देखते हुए भारत सरकार ने कई दिशा-निर्देश दिए है। इसके साथ ही रेलवे ने भी कई बदलाव किए हैं। रेलवे ने कोरोना को लेकर सभी डिवीजन को अलर्ट कर दिया है। बिहार के दानापुर डिवीजन में इस अलर्ट के बाद खासी सावधानी बरती जा रही है। ट्रेन की एसी बोगियों से पर्दों को निकाला जा रहा है साथ ही सभी ट्रेनों को सेनेटाइज भी करने का काम अब शुरू कर दिया गया है। साथ ही रेलवे ने ट्रेनों की एसी बोगी में आगले आदेश तक पर्दे हटा दिए और एसी कोच में 27 डिग्री तक तापमान करने का निर्णय लिया है। इसके साथ ही लोगों के पास से कंबल हटा दिया गया है और किसी यात्री को इसकी जरूरत पड़ी तभी उन्हें कंबल दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *