August 7, 2020

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में मुंबई पुलिस पर उठे सवाल, तो उद्धव ठाकरे ने कहा ये…

सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के मामले में जांच करने मुंबई गई बिहार पुलिस के साथ मुंबई पुलिस के अफसरों की अभद्रता का मामला राजनीतिक रूप ले चुका है। बिहार के अफसरों को मीडिया से बात ना करने देने के बाद मुंबई पुलिस पर सवाल उठ रहे हैं। इस मामले में महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने खुद हस्तक्षेप किया है। उद्धव ठाकरे ने कहा है कि सुशांत सिंह राजपूत के मर्डर केस को लेकर अगर बिहार पुलिस के पास कुछ सबूत हैं तो उसे वह हमें दे सकते हैं। हम आरोपियों से पूछताछ करेंगे और दोषी को सजा भी दिलाएंगे।

ये भी पढ़ें- पहली बार सुशांत सिंह राजपूत मामले में रिया चक्रवर्ती का बयान आया सामने, कही ये बड़ी बात

उद्धव ठाकरे ने हो रही राजनीतिक बयानबाजी के बीच सफाई देते हुए मुंबई पुलिस का समर्थन किया है। उद्धव ने कहा है, ‘मुंबई पुलिस बेकार नहीं है। अगर किसी के पास सबूत हैं तो उसे हमारे पास पहुंचा सकता है। हम उसके आधार पर आरोपियों से पूछताछ करेंगे और जो भी दोषी होगा उसे सजा भी देंगे। मेरी अपील है कि इस मुकदमे को महाराष्ट्र और बिहार के बीच झगड़े की वजह ना बनाया जाए।’ बता दें आपको कि ये पूरा विवाद बिहार पुलिस की उस कार्रवाई के नाम पर शुरू हुआ, जिसके लिए उसने मुंबई पुलिस के अफसरो से मदद मांगी थी। बिहार पुलिस के अधिकारी शुक्रवार शाम को जांच के लिए मुंबई क्राइम ब्रांच के दफ्तर पहुंचे थे। इस दौरान बिहार पुलिस के अफसरों से जब मीडिया के कुछ लोगों ने बात करने का प्रयास किया तो मुंबई पुलिस के जवानों ने उन्हें पकड़ लिया। मीडिया के तमाम कैमरों के बीच मुंबई पुलिस के अफसर बिहार पुलिस के अधिकारियों को वैन में बैठाकर कहीं लेकर चले गए। इसका वीडियो सामने आया तो बिहार के वरिष्ठ पुलिस अफसरों से लेकर आम लोगों तक ने मुंबई पुलिस के रवैये पर सवाल उठा दिए।

ये भी पढ़ें- बिहार में कोरोना पहुंचा 50 हजार के पार, जाने कौन से जिले हैं सबसे अधिक संक्रमित

वहीं अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में बिहार पुलिस का अनुसंधान अब गति पकड़ चुका है। पुलिस को सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती के खिलाफ अहम सबूत मिले हैं। रिया लापता हो गईं हैं। पुलिस का उनसे मोबइल पर भी संपर्क नहीं हो पा रहा है। इस बीच जांच को गई बिहार पुलिस की टीम को मुंबई पुलिस से मिल रहे असहयोग की समस्‍या पर विचार तथा आगे की रणनीति तय करने के लिए बिहार के डीजीपी गुप्‍तेश्‍वर पांडेय ने अहम बैठक की है। बैठक के बाद डीजीपी ने महाराष्‍ट्र के डीजीपी से बात कर इस मामले में सहयोग मांगा है। सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में बिहार पुलिस के आला अधिकारियों ने पुलिस मुख्यालय में रणनीति तय की। बिहार पुलिस की एसआइटी को मुंबई पुलिस से सहयोग नहीं मिलने पर डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने बैठक बुलाई थी। पुलिस मुख्यालय के एक आला अधिकारी ने बताया कि डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने स्वयं महाराष्ट्र के डीजीपी से बात की तथा इस मामले को देश के करोड़ों लोगों की भावनाओं से जुड़ा हुआ बताकर बिहार पुलिस की एसआइटी को महाराष्ट्र पुलिस से सहयोग दिलाने की ओर ध्यान आकृष्ट किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed