April 5, 2020

500 छात्राओं को पुलिस ने मदरसा से भेजवाया घर, मदरसा के प्राचार्य पर की कार्रवाई ।

बिहार सरकार और झारखंड सरकार के 31 मार्च तक कर्फ्यू लगाने के बाद देश के पीएम ने लोगों को संबोधित करते हुए 14 अप्रैल तक कर दी है, उन्होंने कहा कि 14 अप्रैल तक स्कूल, कॉलेज, सिनेमा घर, मतलब जहा पर ज्यादा भीड़ है वहा जाने से सरकार ने साफ मना कर दिया है इसके बाद कुछ मदरसों ने छात्राओं को जबरन पढ़ाई कराया जा रहा है, जबकी सरकार साफ साफ शब्दों में कह दिया है कि 14 अप्रैल तक अपने घरों में बंद रहे, बिना जरुरी को कभी भी कोई बाहर ना निकले । लेकिन कुछ लोग कायदे कानून का उल्लघंन करते हुए अपनी स्कूल औऱ मदरसा चला रहे है

आगे पढ़ें- कोरोना से हाहाकारः इन फोन नम्बरों पर कॉल करके पा सकते हैं मदद

हम आपको बता दे कि इस संकट के मद्देनजर पूरे झारखंड में लॉकडाउन कर दिया गया  है, वही स्कूल, कॉलेज, पार्क और सिनेमाघरों को 14 अप्रैल तक के लिए बंद कर दिया गया है, लेकिन रांची के परहेपाट स्थित मदरसा कुल्लीयतुल बनात में जबर्दस्ती तकरीबन पांच बच्चियों को रखने का मामला सामने आया है, आरोप है कि मदरसा के प्राचार्य उन्हें घर जाने नहीं दे रहे थे, हालांकि, सूचना मिलने के बाद प्रशासन की पहल पर सभी छात्राओं को उनके घर भेजा गया, बताया जा रहा है कि ग्रामीण एसपी को सूचना मिली कि मदरसे के छात्रावास में छात्राओं को बंधक बनाकर रखा गया है, उन्हें घर नहीं भेजा जा रहा, सूचना पर जब एएसपी के. विजय शंकर मदरसा पहुंचे, तो देखा कि करीब 500 छात्राएं हॉस्टल में मौजूद थी जिसके बाद छात्राओं के अभिभावकों को बुलाकर छात्राओं को उनके सौप दिया गया

आगे पढ़ें- कोरोना वायरसः वित्त मंत्री ने की बड़ी घोषणा, जाने किसे क्या दी गई राहत

लेकिन मदरसा के प्राचार्य ने बताया कि परिक्षा नजदीक है ऐसे पढ़ाई जरुरी समझकर छात्राओं को घऱ जाने की अनुमती नही दी गई, और उनके विषय पर ध्यान दिलवाया गया, वही पुलिस ने मदरसा के प्राचार्य को अपने हिरासत में ले लिया और बनती कार्रवाई करने को कहा है, पुलिस ने बताया कि राज्य सरकार और केंद्र सरकार ने साफ-साफ कह दिया  है कि आप 14 अप्रैल तक अपने घरों में रहे और साथ 14 अप्रैल तक स्कूल कॉलेज औऱ सिनेमा घर, पार्क यहा तक की मॉर्निंग वॉक के लिए सबको मना कर दिया है , फिर भी मदरसा को चलाया जा रहा था,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *