April 5, 2020

पुलिस ने छापेमारी के दौरान 5 नक्सलियों को किया गिरफ्तार, 3 भागने में हुए कामयाब

झारखंड में सोरेन सरकार ने कोरोना वायरस देखते हुए 31 मार्च तक लॉक़डाउन का ऐलान किया था तो पीएम के ऐलान के बाद 14 अप्रैल तक स्कूल कॉलेज, सिनेमा घर जैसे जगहो पर पाबंधी रहेगी, लेकिन कोरोना वायरस होने के बाद भी नक्सली डरने का नाम नही ले रहे है जब राज्य में रातो दिन पुलिस फोर्स सड़क पर ही रह रही है, वही पुलिस ने नक्सलियों को पकड़ने में सफलता हाथ लगी है, पोड़ाहाट जंगल से पीएलएफआई कमांडर शनिचर सुरीन गिरोह के 5 नक्सलियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन बताया जा रहा है कि 3 नक्सली भागने में कामयाब रहे है ।

आगे पढ़ें- कोरोना से मौत पर 4 लाख का अनुदान देगी नीतीश सरकार, जाने और क्या हुआ ऐलान ?

दरअसल जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि सुरीन गिरोह के द्वारा गोईलकेरा में सड़क निर्माण में लगे ठेकेदार से पच्चीस लाख रुपये की लेवी की मांग की गई थी, जिसमें से ठेकेदार ने दस हजार रुपया एडवांस के तौर पर दे भी दिया, पहले ठेकेदार के द्वारा लेवी देने से इनकार करने पर पीएलएफआई नक्सलियों ने उसके 5 वाहनों को जला दिया था, इसके बाद दो-तीन पहले फिर से ठेकेदार के कैंप पर आकर लेवी की मांग की थी, जिसके बाद पुलिस ने नक्सलियों को गिरफ्तार कर लिया, वही नक्सलियों के पास से 5 मोबाइल, एक गोली, नक्सली पर्चा और चाकू बरामद किये गये, कोरोनावायरस के खतरे को देखते हुए गिरफ्तार नक्सलियों की समाहरणालय में थर्मल स्क्रीनिंग की गई

आगे पढ़ें- रांची में छिपे थे 11 विदेशी मौलवी, पुलिस ने हिरासत में लिया

वही चाईबासा एसपी इंद्रजीत महथा ने बताया कि सुरीन गिरोह के द्वारा गोईलकेरा में सड़क निर्माण में लगे ठेकेदार से पच्चीस लाख रुपये की लेवी की मांग की गई थी, ठेकेदार ने 10 हजार रुपया एडवांस के तौर पर दे भी दिया, क्यों की पहले ठेकेदार के द्वारा लेवी देने से इनकार करने पर नक्सलियों ने उसके 5 वाहनों को जला दिया था, इसी डर से ठेकेदार ने नक्सलियों को 10 हजार रुपया एंडवांस के तौर पर दिया, ताकि फिर से नक्सली उसके वाहन को न जलाए, और कुछ नुकसान न करे ।वही एसपी साहब ने बताया कि नक्सली किसी काम को अंजाम देने के लिए वन में अपने पुराने हेड क्वार्टर पर थे, इसी दौरान पुलिस ने छापेमारी कर नक्सलियों को पकड़ लिया लेकिन 3 भागने में कामयाब रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *