July 7, 2020

पतजंलि ने मारी पलटी, कहा- कोरोना की दवा नहीं बल्कि इम्युनिटी बूस्टर ही बनाया

पतंजलि की ओर से कोरोना वायरस के इलाज के लिए किए गए  कोरोनील दवा को बनाए जाने को लेकर पतंजलि की दिव्य फार्मेसी द्वारा भेजे गए नोटिस पर आचार्य बालकृष्ण ने कहा है कि औषधि के लेवल पर किसी तरह का अवैध दावा नहीं किया गया है। जबकि इस दवा को करुणा वायरस के इलाज कोरोना वायरस के इलाज के लिए किए गए दावे से पलटी मार ली है। जबकि उत्तराखंड आयुष विभाग की ओर से पतंजलि की दिव्य फार्मेसी को नोटिस भी भेज दिए गए हैं। इस बारे में आचार्य बालकृष्ण ने कहा है कि इस दवा के लिए इम्यूनिटी बूस्टर का ही लाइसेंस लिया गया था। लेकिन कोरोनिल टैबलेट श्वसारि वटी और अणु तेल, औषधि इम्यूनिटी बूस्टर का ही काम करती है।

ये भी पढ़े -बिहार के औरंगाबाद जिले में कांग्रेस विधायक भी आये कोरोना की चपेट में

उन्होंने कहा कि कोरोना के इलाज की दवा उन्होंने नहीं बनाई। बल्कि पतंजलि की दवा इन्युनिटी बूस्टर का काम करती है। जबकि इसके क्लीनिकल ट्रायल में किये इसके सेवन से कई कोरोना के मरीज ठीक हुए। पतंजलि ने इम्युनिटी बूस्टर का ही लाइसेंस लिया है। बता दें कि अपना जवाब को इसी मामले में भेजा है कि टेबलेट का काम करती है। जबकि 1 सप्ताह पहले यह दावा किया था क्या दवा के लिए बनाई गई है। लेकिन अब उसने अपने इस दावे से इंकार कर दिया है।

खबरों को विस्तार से देखने के लिए हमारे APP को डाउनलोड करें- https://play.google.com/store/apps/details?id=com.newsone11.app&hl=en

गौरतलब है कि मंगलवार को पतंजलि संस्थापक बाबा रामदेव ने कोरोना की दवा पेश करके उनकी दवा कोरोनिल बनाने का दावा किया था। जिसके बाद यह खबर मीडिया में सुर्खियां बन गई थी। लेकिन आयुष मंत्रालय ने इस पर संज्ञान लेते हुए पत्नी को नोटिस जारी कर दिया और इसके प्रचार प्रसार पर रोक भी लगा दी। साथ ही इससे संबंधित दस्तावेज भी मांगे गए थे।

ये भी पढ़े –पीएम मोदी के देश सम्बोधन और घोषणा के बाद तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर साधा निशाना

जिसके बाद बुधवार को आयुष विभाग के नोटिस जारी करके फार्मेसी को तत्काल ही कोरोना किट के प्रसार-प्रचार पर रोक लगाने और लेबल संशोधित करने के आदेश दिए गए थे। जबकि इस दवा के मामले में बिहार और राजस्थान में मुकदमा भी दर्ज हो चुका है। जिसके बाद अब प्रदेश के आयुष विभाग का कहना था कि पतंजलि के इम्युनिटी बूस्टर बनाने का लाइसेंस दिया गया था।

  MUST WATCH-

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed