April 7, 2020

रेलवे के इस फैसले से बिहार की 100 से भी ज्यादा ट्रेंनों पर दिखा असर, जाने क्या है मामला

बिहार के दानापुर रेल मंडल के पटना झाझा मेन लाइन पर स्थित किउल स्टेशन पर रूट रिले इंटरलॉकिंग (RRI) की स्थापना को लेकर इस रूट की 81 एक्सप्रेस ट्रेनें और 32 पैसेंजर ट्रेनें को अलग-अलग दिनों में रद्द करने का फैसला किया गया है। जिसके चलते ये ट्रेन अपने स्थान प्ररंभिक स्टेशन से ही नहीं चलेगी। वहीं, सात ट्रेनों को पुनर्निर्धारित कर चलाये जाने की घोषणा की गई है। जबकी 10 ट्रेनों का अलग-अलग स्टेशनों पर आंशिक रूप से रोका या फिर चलाया जाएगा। वहीं, 45 ट्रेनों को अलग-अलग दिनों में बदले मार्ग से चलाया जाएगा।

ये भी पढ़ें : कोरोना वायरस को लेकर रेलवे ने उठाया ये कदम, जाने क्या-क्या हुआ बदलाव

वहीं रेलवे के इस फैसले के अनुसार गाड़ी संख्या 13242 राजेंद्र नगर बांका एक्सप्रेस मोकामा, बरौनी बाइपास, मुंगेर ब्रिज जमालपुर के रास्ते चलेगी। वहीं, गाड़ी संख्या 12331 हावड़ा जम्मूतवी एक्सप्रेस अप व डाउन में आसनसोल, गया, डीडीयू के रास्ते चलेगी। 18449 पुरी पटना एक्सप्रेस आद्रा गोमो गया पटना होकर चलेगी। गाड़ी संख्या 22643 और 22644 एर्नाकुलम एक्सप्रेस राजाबेरा, गोमो, गया, पटना मोकामा के रास्ते चलेगी। डिब्रूगढ़ दिल्ली एक्सप्रेस कटिहार, शाहपुर पटोरी पाटलिपुत्र के रास्ते चलेगी।

ये भी पढ़ें : केरल, असम सहित इन राज्यों में आज से शुरू होगी बारिश, बिहार में बढ़ेगा पारा

पूर्व मध्य रेल के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि किउल में इंटरलॉकिंग निर्माण कार्य को लेकर 14 फरवरी से लेकर 22 मार्च तक प्री NI कार्य चल रहा है। इसके बाद 23 मार्च से 30 मार्च तक एनआई का काम होना है। फिर 31 मार्च से दो अप्रैल तक पोस्ट एनआई का काम कराया जाना है। इसको लेकर ही पटना-किउल-झाझा और गया-किउल-भागलपुर रेलखंड पर चलने वाली ट्रेनों को रद्द करने या फिर मार्ग में परिवर्तन कर चलाने और कुछ ट्रेनों का आंशिक व प्रारंभिक समापन के साथ पुनर्निर्धारित करके चलाये जाने की योजना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *