April 4, 2020

गरीबों और पीड़ितों की सहायता के लिए महावीर मंदिर ने दिए करोड़ रुपये ।

कोरोना वायरस को लेकर जहा पूरी दुनिया में चर्चा का विषय बना हुआ है तो वही राशनकार्ड धारको को मुख्यंत्री ने अपने मुख्यमंत्री राहत कोष से हर छात्रवृति छात्राओँ को एक एक हजार रुपये देने को कहा है तो वही सभी विधायकों को एक माह का वेंतन छोड़ने का कहा गया है, साथ ही हम आपको बता दे कि विपक्ष नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार को सभी विधायकों से एक एक करोड़ रुपये लेने के लिए नीतीश को पत्र लिखा है तो वही अभी तक नीतीश ने कर्फ्यू के साथ साथ ऱाशनकार्डधारको को एक माह का राशन देने को कहा है वही इसी लॉकडाउन को ध्यान में रखते हुए महावीर मंदिर न्यास पटना ने नीतीश का सहयोग किया है

आगे पढ़ें- शराबियों और ग्रामीणों में मार-पीट, 1 की मौत 5 से ज्यादा लोग घायल

हम आपको बता दे कि कोरोना को लेकर किए गए लॉकडाउन में हो रही दिक्कतों को देखते हुए महावीर मंदिर न्यास पटना ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 1 करोड़ रुपए की सहयोग राशि कोरोना वायरस की विभीषिका को समूल नष्ट करने एवं गरीबों को भोजन सुलभ कराने की सरकारी योजना को सुदृढ़ करने के उद्देश्य से दिया है, हम आपको बता दे कि पहले भी महावीर मंदिर ने मुज़फ़्फ़रपुर ज़िले में बच्चों के बीच व्याप्त मस्तिष्क़ ज्वर के उपचार के लिए 12 लाख रुपय की दवा तथा ग्लूकोज़ ज़िलाधिकारी मुज़फ़्फ़रपुर को दिया था, हमेशा खराब स्थिति में महावीर मंदिर लोगों के लिए जरुर आगे आता है ।

आगे पढ़ें- 26 मार्च को हुआवेई P40 होगी लॉन्च,लाइव स्ट्रीमिंग के जरिये होगी लॉन्चिंग

वही हम आपको बता दे कि कोरोना वायरस के दमन और गरीबों को भोजन उपलब्ध कराने हेतु और भी कोई जवाबदेही मिलती है तो उसका पालन महावीर मंदिर न्यास सहर्ष एवं पूरी तत्परता के साथ करेगा,हम आपको बता दे कि अभी तक पूऱा भारत में कोरोना का संक्रमण 576 लोगों को हुआ है जबकी बिहार में 4 लोग संक्रमण से ग्रसीत थे जिन्में से 1 लोग की मौत हो चुकी है, वही बिहार के गरीबों औऱ पीड़ितो की सहायता के लिए पटना के महावीर मंदिर ने निर्णय लिया है कि मंदिर की तरफ से 1 करोड़ रुपये राशी मुख्यमंत्री राषी कोष में भेजा जाएगा । ताकि गरीबों को मिल सके ।

वही महावीर मंदिर न्यास, पटना के सचिव किशोर कुणाल ने इस बात की जानकारी दी है कि उन्होंने कहा  बिहार में अब तक कोरोना वायरस के चार पॉजिटिव केस मिले हैं जिसमें से एक की मौत हो गई है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *