June 5, 2020

लॉकडाउन 2.0:- सिवान रेड ज़ोन घोषित तो मुंगेर में सामने आए तीन नए केस

कोविड-19  संक्रमण की रोकथाम  के लिए लगाए पूरे देश गए लॉकडाउन फेज-2 को आज छह दिन हो गए है। बिहार में भी लॉकडाउन का सख्ती से पालन किया जा रहा है।हालांकि37 जिलों में लॉकडाउन से थोड़ी छूट मिली है। सीवान को रेड जोन में शामिल किया गयाहै, इसलिए यहां किसी प्रकार की छूट नही दी गयी है । वहीं राज्य के 13 जिले ऑरेंज जोन में शामिल हैं। इन ज़िलों में हॉटस्पॉट क्षेत्र को छोड़ अन्य इलाकों में छूट मिली है।

ज्ञात हो कि बिहार के 24 जिले ऐसे हैं, जहाँ अब तक किसी के संक्रमित होने की खबर नही आई है। 

ज़ोन के हिसाब से ज़िलों की लिस्ट-

  1. रेड जोन- सीवान 
  2. ऑरेंज जोन- मुंगेर, बेगूसराय, नालंदा, पटना, गया, गोपालगंज, नवादा, बक्सर, सारण, लखीसराय, भागलपुर, आरा और वैशाली
  3. ग्रीन जोन- पं. चंपारण, पू. चंपारण, सीतामढ़ी, शिवहर, मुजफ्फरपुर, मधुबनी, दरभंगा, समस्तीपुर, सुपौल, मधेपुरा, सहरसा, खगड़िया, अररिया, पूर्णिया, किशनगंज, कटिहार, बांका, जमुई, शेखपुरा, जहानाबाद, अरवल, औरंगाबाद, रोहतास और कैमूूूर।

मुंगेर में जमातियों के सम्पर्क में आने से 3 निये पॉजिटिव केस आये सामने-

मुंगेर जिले के तीन और लोगों में कोरोना की पुष्टि रविवार देर रात हुई। गौरतरलब हो कि जमालपुर के सदर बाजार निवासी जमाती और साथ ही उनके परिजनों के संपर्क में आए तीन और लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है।स्क्रीनिंग के दौरान इन लोगों की जांच पोसिटिव में आने से इस बात की पुष्टि हुई।

सिवान में अब तक सबसे अधिक कोरोना संक्रमित

सीवान जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या बिहार में अब तक सबसे अधिक दर्ज की गई है।कुल संक्रमितों की संख्या 29 है। वही सिवान  से राहत की एक खबर सामने आई है। यहां 22 संक्रमित के रिपोर्ट निगेटिव आए हैं।फिलहाल सभी लोगों को क्वारैंटाइन में रखा गया है। मेडिकल टीम द्वारा सीवान के सभी पंचायत, गांव और मोहल्ले के सभी परिवारों की एक्टिव स्क्रीनिंग की जा रही है। चूंकि जिले को रेड जोन में शॉर्टलिस्ट किया गया है,इसलिए पूरे इलाके में एक समान सख्ती बरती जा रही है।

रोजगार के लिए मिल रही छूट-

बताते चलें कि ग्रामीण मजदूरों को रोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से लॉकडाउन में कुछ छूट दी गई है। मुंगेर के डीएम राजेश मीणा ने बताया कि कोरोना संक्रमित जमालपुर नगर परिषद, मुंगेर नगर निगम तथा सदर प्रखंड क्षेत्र को छोड़कर शेष अन्य क्षेत्रों में सामाजिक दूरी का सख्ती से पालन कराते हुए मजदूरों को रोजगार दिलाने के लिए योजनाएं शुरू की जाएगी।रोजगार के कारण परेशानियों का सामना करने के कारण इस पहल की शुतुआत करने की मंशा जताई गई है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *