June 2, 2020

जानिए महिलाएं क्यों करती है वट सावित्री की पूजा?, कई रहस्य है जुड़े, विस्तार से जानें

ऐसे तो महिलाएं अपने पति की आयु के लिए बहुत सारे व्रत रखती है और करती भी है, इसी में से एक है वट सावित्री व्रत, जो इस बार 22 मई को महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए रखेगी, बताया जाता है कि इस दिन महिलाएं 16 श्रृंगार कर बरगद के पेड़ के नीचे पुजा करती है फिर उस पेड़ में धागा बांधती है और पेड़ के चारों ओर परिक्रमा कर पुजा करती है, तब जाकर इस व्रत को करने का फायदा होता है ।

आगे पढ़ें-शौच करने गई नाबालिग से दुष्कर्म, पुलिस ने यू किया गिरफ्तार,जानिए पूरा मामला

बताया जाता है कि हिंदू धर्म के लोग ही इसे पुजा को बड़ी जोर शोर से करते है, यह पूजा हमारे पुर्वजों की जमाने से पत्नीयां अपने पति के लिए इस पुजा को करते आ रही है, कहा जाता है कि इस पेड़ की पुजा इस लिए करा जाता है कि यही वृक्ष ने सावित्रि के पति के मृत शरीर को अपने जटाओं में संभाल कर रखा था इसी के याद में महिलाएं अपनी पति की लंबी आयु के लिए वृक्ष का पुजा करेते आ रही है यह परंपरा सावित्रि ने

खबरों को विस्तार से देखने के लिए हमारे APP को डाउनलोड करें- https://play.google.com/store/apps/details?id=com.newsone11.app&hl=en

शुरु की थी तभी से लेकर आज भी लोग बरगद के पेड़ की पूजा करते आ रहे है, वही वेदो के अनुसार ज्योतिषियों ने बताया है कि इस वृक्ष में ब्रम्हा, विष्णू, महेश तीनो का वास होता है जिसकी वजह से महिलाओं के द्वार अपनी पति के लंबी आयु की कमाना करने पर उनकी इच्छा पुरी होती है ।

आगे पढ़ें-12 साल से फरार चल रहे नक्सलियों को सुरक्षाबलों ने ऐसे किया गिरफ्तार, जाने

वही कहा जाता है कि इस दिन महिलाएं स्नान करके, 16 श्रृंगार कर सूर्य को अर्ध्य दे कर व्रत करने का फैसला लेती है, वही पूजा करने के लिए महिलाएं पूजा के सारे समान एक प्लेट, फूलडाली, या फिर टोकरी या डालिया में सही से रख लेती है और फिर वृक्ष के पास जा कर पूजा करती है, पूजा करने से पहले महिलाएं वृक्ष के नीचे साफ सफाई और सावित्री की फोटो बना कर फिर पूजा करती है यही नही अपने मन से पेड़ में धागा बांधती है, फिर वृत को 5, 11, 105 इस तरह की परिक्रमा कर पूजा पूरी करती है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *