August 7, 2020

बिहार में बढ़ता अपराध! हत्यारों ने दोनों आंखें निकाली फिर कर दी हत्या, जाने कहां हुई ये निर्मम हत्या

गयाः बिहार के गया से विभक्त एवं निर्मम तरीके से हत्या किए जाने की सनसनीखेज खबर सामने आई है। गया जिला के टिकारी अनुमंडल के जलालपुर प्रखंड के इंग्लिश गांव में मकर यादव की निर्मम तरीके से रोंगटे खड़े कर देने वाली हत्या किए जाने से इलाके में सनसनी फैल गई है। बीती रात लगभग 50 वर्षीय मकर यादव की हत्या करने के पहले उनकी आंखें निकाली गई। उसके बाद तड़पते मकर यादव की गर्दन रेत पर बुरी तरह से निर्मम हत्या की गई।

ये भी पढ़ें- बिहार में फूट रहा कोरोना बम! जाने बिहार के कौन से पांच जिले हैं सबसे अधिक प्रभावित, सोमवार का अपडेट

इस घटना की जानकारी अहले सुबह परिवार वालों को उस वक्त मिली जब मकर यादव अपने घर के बाहर दलान में सोया हुआ था। इस घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंच कर हत्या के कारणों का पता लगाना शुरू कर दी है। इस संदर्भ में मृतक के पुत्र युगल यादव ने बताया कि हर रोज की तरह मेरे पिता घर के बाहर रात में सोये हुए थे और हमलोग घर के अंदर सोये हुए थे। जब सुबह उठकर बाहर निकले तो देखा कि मेरे पिता को धारधार हथियार से गला रेता हुआ और दोनों आँखों को निकाल दिया गया है और काफी खून भी गिरा हुआ था!

ये भी पढ़ें- बिहार में कोरोना के कुल मरीज हुए 41111, सोमवार को फिर से मिले 2192 नए मरीज

मृतक के पुत्र ने यह भी कहा कि हमलोगों के साथ किसी के साथ न ही लड़ाई झगड़ा हुआ है और न किसी से कोई तरह के विवद था। वहीं टिकारी थाना को इसकी सुचना दी गई। जिसके बाद मैक् पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए गया के मगध मेडिकल कॉलेज भेज दिया है। इस संदर्भ में गया के एसएसपी राजीव कुमार मिश्रा ने बताया कि टिकारी के मऊ में सोये हुए बृद्ध ब्यक्ति को अपराधियों ने तेज धार बाले हथियार से गाला रेतकर ह्त्या करने का मामला प्रकाश में आया है। पुलिस इस मामले में अनुसंधान कर रही है। अभी घटना की स्पष्ट जानाकरी नहीं मिल पा रही है कि ह्त्या का मुख्य कारण क्या है और परिवार वाले कुछ नहीं बता पा रहे हैं, फिर भी पुलिस जाँच कर उचित कार्रवाई करेगी। उन्होंने कहा कि जो आरोपी है पुलिस उसे जल्द से जल्द गिरफ्तार करेगी।

गया से अभिषेक कुमार की रिपोर्ट…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed