April 8, 2020

दरभंगाः लॉक डाउन के दूसरे दिन लोगों पर बरसा पुलिस का डंडा, कहा थेथरई नहीं करेंगे बर्दाश्त

दरभंगाः कोरोना वायरस  के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए बिहार के शहरी क्षेत्र में लॉक डाउन किया गया है। जिसके बाद आज यानि की मंगलवार को लॉक डाउन का दूसरा दिन रहा। आज लॉक डाउन के दूसरे दिन दरभंगा  में जहां सुबह में कुछ चौक चौराहे बंद दिखे, तो वहीं शाम होते ही ग्रामीण क्षेत्रों में इसका असर धीरे-धीरे कम होता गया। आपको बता दें कि कुछ लोग हर रोज की तरह अभी भी शाम में बाजार जा रहे हैं। इन में कुछ लोग ऐसे हैं जिसको जरूरत के सामान खरिदने हैं वहीं कुछ लोग तफर करने बाजार जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि ये लोग लॉक डाउन के नियमों की धज्जियां उड़ा रहे है।

ये भी पढ़ेः- राजधानी पटना के IGIMS में 20 साल की कोरोना संदिग्ध मरीज हुई भर्ती, इलाज जारी

हालांकि स्थानीय प्रशासन अनावश्यक खुले दुकानों को बंद करवाने की कोशिश कर रही है। इस दौरान पुलिस के द्वारा सड़कों पर चल रहे आम लोगों को भी जागरूक किया जा रहा है। जबकि पुलिस जरूरत पड़ने पर कहीं-कहीं अपने डंडे का भी इस्तेमाल करती नजर आ रही है, लेकिन कुछ लोग हैं कि इसके बाद भी मानने को तैयार नहीं हैं। हालांकि ग्रामीण क्षेत्रों में अभी कोरोना वायरस को लेकर जागरूकता पैदा करनी की जरूरत है। दूसरे दिन भी सड़कों पर निजी छोटी और बड़ी गाड़िया दौड़ती नजर आई। जिसमें खास तौर पर प्रदूषण फैलाती ट्रेक्टर, ट्रक व अन्य गाड़ियां शामिल है। मंगलवार को घनश्यामपुर थाना के थानाध्यक्ष आशुतोष कुमार झा ने पूरे दिन अपने दलबल के साथ थाना क्षेत्र के बाजारों का मुआयना किया और ऐसे में खुली दुकानों को बंद करवाया। साथ ही लोगों को घर मे रहने की हिदायत भी दी। जिसके बाद भी लोग शाम होते ही बड़ी तादाद में बाजारों की रौनक बढ़ाने के लिए पहुंच रहे हैं। जबकि बिहार सरकार का साफ निर्देश है कि लॉक डाउन के नियमों का उल्लंघन करने वालों पर कानूनी कार्रवाई होगी।

ये भी पढ़ेः- कोरोना: पिछले साल का ITR भरने और पैन-आधार लिंक करने के लिए सरकार ने दी तीन महीने की मोहलत

आपको बता दें कि कोरोना वायरस जिससे पूरी दुनिया त्रस्त है। पूरी दुनिया में हाहाकार मचा हुआ है। भारत में अब इसके मरीजों की संख्या 500 के बाहर हो चुकी है। वहीं मरने वालों का आंकड़ा भी लगातार बढ़ते जा रहा है। हालांकि इसके कुछ मरीज ठीक भी हो रहे हैं। कोरोना को लेकर देश के कई जिलों में लॉक डाउनलोड किया गया है। वहीं एक तरफ डॉक्टर इस बीमारी की इलाज में आ रही कठिनाइयों को दूर करने की कोशिश कर रहे हैं। इस लाइलाज बीमारी के लिए इलाज की तलाश कर रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ दुआओं का भी दौर चल रहा है। लोग भगवान से दुआ कर रहे हैं कि वह विपदा की घड़ी में लोगों की मदद करें। लोगों को एक विपदा से बाहर निकालें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *