July 7, 2020

बिहार में अपराधियों की अब खैर नहीं, अब अचानक धावा बोलेगी पुलिस, मिला टास्क

पटनाः देश और दुनिया में कोरोना का संकट चल रहा है। बात अगर इस बीच बिहार कि करें तो बिहार में तेजी से कोरोना के मरीज मिल रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ बिहार में अपराधिक घटनाओं में भी बढ़ोतरी हो रही है। जिसे लेकर पुलिस मुख्यालय सतर्क है और अब पुलिस मुख्यालय ने तमाम जिलों के एसपी को नया टास्क दिया है। आपको बता दें कि अब पुलिस की विशेष टीम अपराधियों की धरपकड़ के लिए अचानक से धावा बोलेगी और अपराधियों को पकड़ कर सलाखों के पीछे भेजेगी।

ये भी पढ़ें-    59 एप पर प्रतिबंध पर सामने आई चीन की प्रतिक्रिया, कहा ‘चीनी पक्ष गंभीरता से कर रहा है..

बता दें कि पटना में एडीजी मुख्यालय जितेन्द्र कुमार ने सभी जिलों के एसपी को ये टास्क दिया है। उन्होंने कहा कि जिला पुलिस वाहन जांच के लिए विशेष टीम का गठन करें। यह टीम जिले में कहीं भी और कभी भी वाहन जांच कर सकती हैं। इससे अपराध की रोकथाम में मदद मिलेगी। बता दें कि गश्ती और वाहन चेकिंग का काम अमूमन थाने में तैनात पुलिस के जिम्मे होता है। पुलिस अपने थाना क्षेत्र के अधीन अलग-अलग जगहों पर चेकिंग करती है। पुलिस मुख्यालय ने वाहन जांच अभियान को और कारगर बनाने का निर्णय लिया है। इसके लिए जिलास्तर पर पुलिस अफसरों और जवानों की विशेष टीम का गठन किया जाएगा। यह टीम थानों में तैनात पुलिस अफसरों और जवानों से इतर होगी। एसपी विशेष टीम का गठन करेंगे। इसमें पुलिस अफसरों और जवान दोनों शामिल होंगे। इलाके के हिसाब से जिले में एक से ज्यादा टीमों का गठन किया जा सकता है।

ये भी पढ़ें-    कोलाबा के ताज होटल सहित दो होटलों को बम से उड़ाने की मिली धमकी, देश के तीन राज्यों में भी अलर्ट

वहीं एडीजी मुख्यालय जितेन्द्र कुमार ने कहा कि किसी भी थाना क्षेत्र में और कभी भी स्पेशल टीम विशेष वाहन जांच अभियान चला सकती है। माना जा रहा है कि चेकिंग के लिए विशेष टीम का गठन करने से अपराध के रोकथाम में मदद मिलेगी। वहीं थानों को भी पहले से ज्यादा मुस्तैद रहना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *